देहरादून: राष्ट्रीय मत्स्य पालक दिवस के अवसर पर देहरादून स्थित आईआरडीटी सभागार में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी और विशिष्ट अतिथि मत्स्य पालन मंत्री सौरभ बहुगुणा ने मत्स्य पालकों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। साथ ही उधमसिंह नगर और हरिद्वार को ग्राम समाज के तालाब का मत्स्य पालन पट्टे का आवंटन भी किया।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने दो सौ त्रेपन दशमलव सत्तर लाख रुपये की लागत से मत्स्य निदेशालय, भड़ासी ग्रांट देहरादून के परिसर में बनने वाले मत्स्य प्रसंस्करण यूनिट का शिलान्यास किया। उन्होंने कहा कि सिर्फ सरकारी नौकरी से नहीं, बल्कि स्वरोजगार करने से हम आत्मनिर्भर होंगे।

मत्स्य पालन के साथ ही सभी पशु पालकों को सरकार प्रोत्साहन दे रही है। योजनाओं को धरालत पर उतारने का काम किया जा रहा है। मत्स्य पालन मंत्री सौरभ बहुगुणा ने कहा कि मुख्यमंत्री ने मत्स्य पालन से जुड़ी तीन घोषणाएं की हैं, जो मत्स्य के क्षेत्र में काफी फायदेमंद साबित हांेगी।

उन्होंने कहा कि गढ़वाल और कुमाऊं में दो मत्स्य मंडी स्थापित की जाएंगी। जहां से मछलियांे की प्रोसेसिंग, स्टोरेज और बिक्री का कार्य किया जाएगा। दूसरा मत्स्य पलकों को कृषि की तर्ज पर बिजली की दर का भुगतान करना होगा, जो अब तक कॉमर्शियल करना पड़ता था। सौरभ बहुगुणा ने कहा कि मुख्यमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना की शुरआत भी की जाएगी।

Leave a Reply