उत्तराखंड: गोदियाल-धन सिंह की दुश्मनी, अब क्या फैसला लेंगे CM धामी

देहरादून: बदरी-केदार मंदिर समिति का अध्यक्ष रहते कांग्रेस पूर्व अध्यक्ष गणेश गोदियाल पर सदस्‍य की ओर से लगाए गए आरोपों की लड़ाई सदस्य और गोदियाल से हटकर गोदियाल-धन सिंह रावत पर आकर अटक गई है। दोनों ही नेताओं की राजनीतिक टक्कर तो हमेशा ही रही है। लेकिन, अब लड़ाई व्यक्तिगत भी हो चली है। गोदियाल ने सीएम से मामले की जांच के साथ धन सिंह रावत पर लगे आरोपों की जांच नहीं कराए जाने पर सीएम धामी के कार्यालय के बाहर धरना देने की चेतावनी भी दी है।

दोनों ही नेता एक-दूसरे के खिलाफ मोर्चा खोले हुए हैं। गोदियाल ने उन पर लगे आरोपों की जांच की मांग सीएम धामा से की है। उन्होंने कहा कि मामले की जांच हाईकोर्ट के रिटायर जज से कराई जानी चाहिए। साथ ही उन्होंने कैबिनेट मंत्री धन सिंह रावत के विभागों में घोटालों का आरोप लगाकर जांच की की है।

पूर्व कांग्रेस प्रदेश अध्‍यक्ष गोदियाल ने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से मुलाकात कर ज्ञापन सौंपा। उन्होंने उनके विरुद्ध बदरीनाथ केदारनाथ मंदिर समिति का अध्यक्ष रहते लगाए आरोपों के साथ ही कैबिनेट मंत्री धन सिंह रावत पर लगाए जा रहे आरोपों जांच कराने की मांग की। उन्‍होंने मांग की कि उच्च न्यायालय के सेवानिवृत्त न्यायाधीशों की अध्यक्षता में गठित अलग-अलग समितियों से जांच कराई जाए।

उत्तराखंड