उत्तरकाशी : ठंडे बस्ते में डाल दी थी बड़कोट की पेयजल पंपिंग योजना, अब लगी फटकार

बड़कोट : नगर पालिका परिषद बड़कोट के लिए एक तेजल पंपिंग योजना स्वीकृत हुई थी। नगर क्षेत्र में पानी की किल्लत को दूर करने के लिए यह महत्वपूर्ण योजना साबित होती।

लेकिन, विभागीय अधिकारियों की लापरवाही और फाइलों को दबाने की आदत ने इस योजना को भी लगभग ठंडे बस्ते में डाल दिया था। योजना पूर्व में स्वीकृत हो चुकी थी, लेकिन कार्यवाही आगे नहीं बढ़ने के कारण इस योजना की अंतिम स्वीकृति अटक गई और काम भी शुरू नहीं हो पाया।

योजना को लेकर समाजसेवी डॉ. कपिल देव रावत लगातार प्रयास कर रहे हैं। लंबे समय तक योजना पर काम शुरू नहीं होने के बाद उन्होंने इस मामले की शिकायत मुख्यमंत्री हेल्पलाइन पोर्टल पर की जहां से शिकायत level-1 के अधिकारी के पास गई।

लेकिन, संतोषजनक जवाब नहीं मिलने के कारण शिकायत level-2 के अधिकारियों तक जा पहुंची। जिसके बाद मुख्य अभियंता गढ़वाल ने अधिशाषी अभियंता पेयजल बड़कोट को पत्र लिखकर कड़ी फटकार लगाई है।

शासन को लिखे पत्र के बाद पेयजल पंपिंग योजना स्वीकृति की पत्रावली फिर से आगे बढ़ गई है। उम्मीद है कि जल्द ही इस योजना पर काम शुरु हो जाएगा।

लंबे समय से नगर पालिका परिषद् बड़कोट के अंतर्गत पेयजल पम्पिंग योजना स्वीकृत है, जिस पर उत्तराखंड पेयजल निगम ने अधिशासी अभियंता निर्माण शाखा पेयजल निगम उत्तरकाशी की लेटलतीफी पर फटकार लगाई और त्वरित कार्यवाही करने के निर्देश दिए।

उत्तराखंड