चम्पावत: CM पुष्कर सिंह धामी को अगले 6 माह के भीतर चुनाव जीतकर विधानसभा की सदस्यता हासिल करनी होगी। उनके CM बनने के बाद से ही लगातार इस बात की अटकलें लगाई जा रही हैं कि सीएम धामी किस विधानसभा सीट से उपचुनाव लड़ेंगे? उनके लिए सीट छोड़ने का ऐलान 6 विधायकों ने किया था, लेकिन सबसे पहले चम्पावत विधायक कैलाश गहताड़ी ने कहा था कि वो सीएम धामी के लिए सीट छोड़ने को तैयार हैं।

CM बनने के बाद धामी पहली बार चम्पावत पहुंचे और वहां जनसभा संबोधित किया। इससे फिर अनुमान लगाया जा रहा है कि सीएम धामी चम्पावत से ही उप चुनाव में ताल ठोकेंगे। विधायक गहतोड़ी ने एक बार फिर से सीएम धामी से कहा कि वो चम्पावत से चुनाव लड़ें, यहां उनका स्वागत है।

खास बात यह थी कि जैसे CM धामी ने अपना संबोधन शुरू किया। चम्पावत ने भर दी हामी, पुष्कर धामी, पुष्कर धामी…के नारे लगाने शुरू कर दिए। CM धामी ने कहा कि मैं चंपावत अब बार-बार आता रहूंगा। यहां से मेरा पुराना लगाव है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के चंपावत के बनबसा में कहे गए शब्दों के बाद यह कयास लगाए जा रहे हैं कि मुख्यमंत्री खटीमा से लगी चंपावत विधानसभा सीट से उपचुनाव लड़ सकते है।

MLA गहतोड़ी ने मंच से बोलते हुए कहा कि चम्पावत का विकास मेरी प्राथमिकता है। मैं CM धामी को एक बार फिर चम्पावत विधानसभा सीट से लडऩे के लिए आमंत्रित कर रहा हूं। उन्होंने चुनाव में कई बार मेरे क्षेत्र में आकर चुनाव प्रचार किया। क्षेत्र की जनता भी यही चाहती है कि सीएम हमारी सीट से लड़े और यह सीएम सीएम की सीट कहलाए। वहीं सीएम धामी ने विधायक कैलाश गहतोड़ी को जीताने पर जनता का अभिवादन किया। उन्होंने कहा कि मैं विधायक गहतोड़ी के प्रचार में कई बार आया।

जनता ने मेरी भावनाओं का सम्मान किया। मैं चम्पावत के विकास के लिए हमेशा कटिबद्ध हूं। विधायक ने जो भी मांगे रखी है उन्हें पूरा करने का पूरा प्रयास किया जाएगा। सीएम ने कई बार अपने संबोधन में टनकपुर, बनबसा व चम्पावत से जुड़ी यादों को ताजा किया। उन्होंने कहा कि क्षेत्र से मेरा गहरा जुड़ाव है। मैं आप सबकी भावनाओं का सम्मान करता हूं।

Leave a Reply