उत्तराखंड : खाई में गिरी महिला, बचाने कूदा पति, दोनों की मौत

टिहरी : जिले से बेहद दुःखद खबर सामने आ रही है। यहां प्रतापनगर के दिजुला घाटी में पैदल जा रहे नवविवाहित पति पत्नी की गहरी खाई में गिरने से मौत हो गई। बताया जाता है कि नवविवाहिता का पैर फिसल गया उसे बचाने के लिए पति कूदा और दोनों ही करीब 500 मीटर गहरी खाई में गिर गए। दोनों की हादसे में दुखद मौत हो गई।खमनोर ग्राम प्रधान सिलारी सूरज रमोला के अनुसार मोहन लाल, गुना देवी की पिछले माह ही शादी हुई थी।

मोहनलाल दिचलि गाँव का निवासी है। और उसकी ससुराल सिलारी गांव में है। मोहनलल अपनी पत्नी के साथ अपनी ससुराल सिलारी आया था और आज दोनों वापस अपने गाँव जा रहे थे।

गाड़ी न मिलने के कारण मोहनलाल ने अपने दोस्त को बाइक लेकर लेने को बुलाया और अपने आप दोनों लोग पैदल ही चल दिए। ससुराल से करीब 3 किमी आगे ही पहुचे थे कि अचानक गुना देवी का पैर फिसला और मोहनलाल पत्नी को बचाने के चक्कर में दोनों लगभग 500 मीटर गहरी खाई में गिर गए।

जब दोस्त उनको लेने आया और उसने रास्ते में पूछा कि यहां से दो लोग भी गए तो लोगों ने कहा कि हां यहां से दो लोग गए लेकिन दोस्त ने कहा कि वे उस ओर नहीं गए। तब कोरदी सिलारी के ग्रामीणों ने उनकी खोजबीन की तो रास्ते में उनका बैग मिला। जिसकी निशानदेही पर लोगों ने उनको खाई में ढूंढने का काम किया।

दोनों लगभग 500 मीटर गहरी खाई में मिले। दोनों ही बेहोशी की हालत में थे। दोनों को ग्रामीणों द्वारा सड़क पर लाया गया। इसके बाद अस्पताल लाया गया। ग्राम प्रधान सिलारी सूरज रमोला ने दोनों को नही बचाया जा सका।

उत्तराखंड