उत्तराखंड: भ्रष्टाचार पर बड़ा एक्शन, आईएएस गिरफ्तार

देहरादून : सरकार की शक्ति के बाद विजिलेंस है वरिष्ठ आईएएस अफसर रामविलास यादव पर शिकंजा कसा था, जिसके बाद यादव हाईकोर्ट की शरण में गए थे। जहां से कोर्ट ने उनको विजिलेंस के सामने पेश होने के आदेश दिए थे।

विजिलेंस के सामने पेश होने के बाद उनसे करीब 8 घंटे की लंबी पूछताछ हुई, जिसके बाद आईएएस रामविलास यादव को आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने के मामले में गिरफ्तार कर लिया गया।

आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने के आरोपित आईएएस अधिकारी राम विलास यादव को बुधवार देर रात को गिरफ्तार कर लिया है।

गिरफ्तारी से पहले शासन ने उन्हें निलंबित कर दिया था। राम विलास यादव उत्तराखंड सरकार में समाज कल्याण विभाग में बतौर अपर सचिव तैनात थे। जानकारी के अनुसार रामविलास यादव 30 जून को रिटायर होने वाले थे।

विजिलेंस डायरेक्टर अमित सिन्हा ने बताया कि बुधवार को दोपहर 12.45 बजे राम विलास विजिलेंस ऑफिस पहुंचे थे। यहां पूछताछ के बाद उन्हें हिरासत में ले लिया गया।

उत्तराखंड