उत्तराखंड: पांच घंटे में छह जगहों पर लूटी थी चेनें, पुलिस ने किया खुलासा

विभिन्न थाना क्षेत्रों में 28 अप्रैल को चेन स्नेचिंग की घटनाओं को 4 बदमाशांे ने अंजाम दिया था। इस घटना के बाद से ही पांच थानों की पुलिस चेन लुटेरों को खोजने में जुटी थी। लेकिन, पुलिस को सफलता नहीं मिल पाई थी। आज पुलिस ने मामले का खुलासा कर दिया है। जिससे पुलिस ने भी राहत की सांस ली है। पुलिस के लिए यह मामला बड़ी चुनौती बन गया था और कई सवाल भी उठ रहे थे।

चेन लुटेरे सबसे पहले थाना डोईवाला क्षेत्रान्तर्गत गीतापुरम पीलीकोठी के पास हर्रावाला में 2 अज्ञात मोटरसाइकिल सवार सोने की चेन खींचकर भाग गये। इसके बाद थाना रायपुर क्षेत्रान्तर्गत मयूरविहार शिक्षा विहार के पास सोने की चेन खींचकर भाग गये। बदमाशों ने तीसरी घटना को थाना कैण्ट क्षेत्रान्तर्गत प्राइमरी स्कूल कौलागढ के पास अंजाम दिया। उसके बाद थाना पटेलनगर क्षेत्रान्तर्गत पित्थूवाला में और थाना प्रेमनगर क्षेत्रान्तर्गत एकता भवन ठाकुरपुर में चेन लूटी। इसके कुछ देर बाद थाना सेलाकुई क्षेत्र में मुख्य बाजार में घटना का अंजाम दिया था।

पुलिस उप महानिरीक्षक/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जन्मेजय खंडूरी ने घटनाओं के अनावरण और अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु सभी थाना प्रभारियों को कडे दिशा निर्देश दिए थे। जिनके अनुपालन में पुलिस अधीक्षक अपराध, पुलिस अधीक्षक नगर और पुलिस अधीक्षक ग्रामीण के निर्देशन सम्बन्धित क्षेत्राधिकारियों के पर्यवेक्षण में 7 अलग-अलग टीमों का गठन किया गया।

सीसीटीवी कैमरो की फुटेजों को चौक करते हुए सर्विलांस के माध्यम से अभियुक्तों के सम्बन्ध में जानकारी एकत्रित की गयी। विभिन्न घटना स्थलों के पास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेजों का अवलोकन करने पर 2 मोटर साइकिलों पर सवार 4 संदिग्ध व्यक्ति घटना स्थलों के आस-पास घटना के समय जाते हुए दिखाई दिये। फुटेज से प्राप्त अभियुक्तों के हुलिये के सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त करने पर स्थानीय लोगों और मुखबिर ने उनकी पहचान जुगनू पुत्र बाबूराम निवासी चोरखाला सहसपुर देहरादून मूल निवासी अहमदगढ थाना, झिंझाना शामली उत्तर प्रदेश, सोनू पुत्र बुद्धराम निवासी अहमदगढ शामली उत्तर प्रदेश के रूप में हुई।

सोनू का ससुराल चोरखाला सहसपुर क्षेत्र में होने के साथ ही सोनू और जुगनू का आपस में रिश्तेदार होना ज्ञात हुआ। जिस पर पुलिस टीम द्वारा तत्काल सोनू उपरोक्त की ससुराल चोरखाला में दबिश दी गयी जहां मौके पर सोनू उपरोक्त के रिश्तेदारों से उनके सम्बन्ध में जानकारी करने पर उनके द्वारा अभियुक्तों के सम्बन्ध में कोई जानकारी नहीं होना बताया गया और सीसीटीवी कैमरों की फुटेज दिखाने पर सोनू व जुगनू के साथ दिख रहे 2 अन्य संदिग्ध व्यक्तियों की पहचान कान्हा उर्फ कन्हैया और बिल्लू निवासी झिंझाना के रूप में करते हुए उन्हें सोनू व जुगनू का दोस्त होना बताया गया।

मौके से पुलिस टीम द्वारा अभियुक्तों के मोबाइल नम्बरों की जानकारी कर सर्विलांस के माध्यम से अभियुक्तों के सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त की गयी तथा अभियुक्तों की तलाश हेतु पुलिस टीमों को गैर जनपद/गैर प्रान्त रवाना किया गया। अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु पुलिस टीम द्वारा झिंझाना उत्तर प्रदेश, दिल्ली व अन्य सम्भावित स्थानों पर दबिशें दी गयी इस दौरान पुलिस टीम को जानकारी मिली कि अभियुक्त जुगनू व सोनू वर्तमान में दिल्ली में अपने साथी सोनू यादव के सोनिया विहार स्थित घर पर छुपे हुए हैं।

उक्त सूचना से पूर्व में दबिश हेतु दिल्ली गयी टीम को अवगत कराते हुए सम्भावित स्थानों पर दबिश दी गयी, जहां पुलिस टीम द्वारा सोनू यादव के साथी गुलशन को उक्त अभियुक्तों को आश्रय देने में राजपुर छतरपुर से गिरफ्तार किया गया। जिससे पूछताछ में अभियुक्त जुगनू व सोनू के सोनू यादव के साथ ऑटो में हरिद्वार जाने की जानकारी प्राप्त हुई। पुलिस टीम द्वारा अभियुक्त सोनू यादव को नारसन हरिद्वार से गिरफ्तार किया गया। जिसने पूछताछ में अभियुक्त जुगनू व सोनू को हरिद्वार में हाथीपुल के पास छोडना बताया।

जिस पर पुलिस टीम द्वारा हाथीपुल व उसके आस-पास के सीसीटीवी कैमरों की फुटेजों को चौक कर अभियुक्तों के सम्बन्ध में जानकारी हेतु स्थानीय मुखबिर तंत्र को सक्रिय किया गया। इस दौरान अभियुक्तों की तलाश हेतु झिंझाना गयी। उक्त सूचना पर पुलिस टीम द्वारा तत्काल थाना झिंझाना से स्थानीय पुलिस को साथ लेकर अभियुक्तों के मिलने के सम्भावित स्थान ग्राम खोकसा में दबिश देकर घटना में संलिप्त चारों अभियुक्तों जुगनू उर्फ जोगेन्दर, सोनू, कान्हा उर्फ कन्हैया तथा बिल्लू को मौके से गिरफ्तार किया गया।

उसने पूछताछ में जनपद देहरादून में विभिन्न स्थानों में चेन स्नेचिंग की घटनाओं को अंजाम देना स्वीकार करते हुए लूटी गयी चेनों को सहसपुर क्षेत्र में होरावाली रोड पर मजार जाने वाले रास्ते के पास जंगल में छुपाना बताया गया। जिस पर पुलिस टीम द्वारा अभियुक्तों की निशानदेही पर घटना में लूटी गयी चेनों को अभियुक्तों द्वारा बताये गये स्थान से बरामद किया गया। अभियुक्तों को समय से मां0 न्यायालय के समक्ष पेश किया जायेगा।

उत्तराखंड