उत्तराखंड: पूछताछ में आनाकानी कर रहा था IAS, विजिलेंस की कई ठिकानों पर छापेमारी

देहरादून: अपनी आय से 500 गुना अधिक संपत्ति कमाने के मामले में IAS राम विलास यादव पर विजिलेंस ने शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। विजिलेंस ने IAS अधिकारी के पांच ठिकानों पर एक साथ छापेमारी कर दी। उनको कई बार पूछताछ के लिए बुलाया गया, लेकिन वो आनाकानी कर रहे थे।

ऐसे में आज सुबह IAS रामविलास यादव के लखनऊ और देहरादून ठिकानों पर विजिलेंस ने एक साथ छापेमारी शुरू कर दी। छापेमारी की पुष्टि एसपी विजिलेंस धीरेंद्र गुंज्याल ने की है। उत्तर प्रदेश के IAS रामविलास यादव के खिलाफ अप्रैल माह में मुकदमा दर्ज किया था।

उन पर आय से 500 प्रतिशत अधिक संपत्ति अर्जित करने का आरोप है। IAS रामविलास यादव 30 जून को सेवानिवृत्त हो जाएंगे। IAS रामविलास यादव 2019 में यूपी से उत्तराखंड आए थे। यहां शासन ने नौ जनवरी 2019 को उनके खिलाफ विजिलेंस में खुली जांच के आदेश दिए थे।

उत्तराखंड