उत्तराखंड: ये है अनोखा रिकॉर्ड, इस विभाग में 22 साल बाद हुआ प्रमोशन

देहरादून: उत्तराखंड के कारागार विभाग में 22 सालों बाद पहली बार किसी चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारी का प्रमोशन हुआ है। ऐसा शायद ही आपने कभी सुना होगा कि 22 साल से कोई चतुर्थ श्रेणी का कर्मचारी एक ही पद पर तैनात रहा हो, जबकि उनके साथ के अन्य कर्मचारियों को प्रमोशन पर प्रमोशन मिलते रहे।

मानिरीक्षक कारागार पुष्पक ज्योति ने बताया कि कल 11 अप्रैल 2022 को कारागार विभाग में चतुर्थ श्रेणी पद पर तैनात कर्मी सुदर्शन कुमार की डीपीसी की गयी और उनका प्रमोशन आरक्षी चालक के पद पर हुआ। यह पिछले 22 सालों में कारागार विभाग में किसी चतुर्थ श्रेणी कर्मी का प्रमोशन आरक्षी चालक के पद पर हुआ है। इससे पूर्व 28 मार्च 2022 को 22 वर्ष बाद ही 11 हेड वार्डर डिप्टी जेलर पद पर पदोन्नत हुए थे।

महानिरीक्षक, कारागार का पद ग्रहण करने के बाद से ही पुष्पक ज्योति ने लम्बे समय से अटकी पदोन्नित प्रक्रिया को सुचारू किया है। यह भी एक रिकॉर्ड है कि 22 वर्षों में पहली बार कारगार विभाग में इतने व्यापक स्तर पर कर्मियों की पदोन्नति हुई है। कुछ समय पूर्व लगभग 06 वर्षों के पश्चात 37 वार्डर का भी हेड वार्डर पद पर प्रमोशन भी हुआ था।

उत्तराखंड