पेपर लीक मामला : प्रधान और क्षेत्र पंचायत सदस्यों की खुलेगी पोल, उत्तरकाशी के सबसे ज्यादा

पेपर लीक मामला : प्रधान और क्षेत्र पंचायत सदस्यों की खुलेगी पोल, उत्तरकाशी के सबसे ज्यादा पहाड़ समाचार editor

देहरादून: उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग (UKSSSC) पेपर लीक मामले में हर रोज नए खुलासे हो रहे हैं। अब तक चार सरकारी कर्मचारियों समेत 13 गिरफ्तार हो चुके हैं। दो जिला पंचायत सदस्यों के नाम की भी खूब चर्चा हो रही है।

अब एक और जानकारी सामने आ रही है कि नकल के इस खेल में कई ग्राम प्रधान और क्षेत्र पंचायत सदस्य भी परीक्षा में शामिल हुए थे। ये सभी नकल के सहारे अफसर बनने के ख्वाब देख रहे थे।

उत्तराखंड: इस शहर में एक-दो नहीं पूरे 22 दिन रहेगा पावर कट, ये है टाइमिंग

लिस्ट तैयार हो चुकी थी। परिणाम जारी होने थे, लेकिन उससे पहले ही जांच ने सबकी पोल खोलकर रख दी। इस मामले में उत्तरकाशी जिला सबसे ज्यादा चर्चा में है। जिले के मोरी क्षेत्र अभ्यर्थी इस परीक्षा में 80 से ज्यादा अभ्यर्थी पास हुए हैं। इनमें कुछ ग्राम प्रधान हैं तो क्षेत्र पंचायत सदस्य और ग्राम पंचायत सदस्य।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार STF के सूत्रों के अनुसार, आरोपी कई अभ्यर्थियों को लेकर देहरादून आया था। यहां उसने लीक करने वालों से पेपर खरीदा और हल कर इन अभ्यर्थियों को बेचा था। सभी यहां होटलों में ठहरे थे।

हालांकि, एसटीएफ को इनके बारे में पर्याप्त साक्ष्य नहीं मिले हैं। बस पकड़े गए आरोपियों ने इनके नाम लिए हैं। इस मामले में STF की एक टीम गढ़वाल में, दूसरी हरिद्वार और तीसरी कुमाऊं क्षेत्र में साक्ष्य जुटाने में लगी हुई है।

पेपर लीक मामला : प्रधान और क्षेत्र पंचायत सदस्यों की खुलेगी पोल, उत्तरकाशी के सबसे ज्यादा पहाड़ समाचार editor

उत्तराखंड