उत्तराखंड : वाह सरकार, रिजल्ट आने से पहले ही चकनाचूर कर दिए बेरोजगारों के सपने

देहरादूनः बेरोजगारी चरम पर है। युवा रोजगार के इंतजार में हैं। कई प्रतियोगी परीक्षाओं के परिणाम का इंतजार भी युवाओं को है, लेकिन एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसमें परिणाम आने से पहले ही पद घटा दिए गए। इससे बेरोजगारों में भारी आक्रोश है। इंटरमीडिएट स्तर की भर्ती परीक्षा परिणाम जारी होने से ठीक पहले वन विभाग में कनिष्ठ सहायक के 61 पद कम कर दिए गए हैं।

इसकी जानकारी उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग ने भर्ती शामिल अभ्यर्थियों को दे दी है, जिसके बाद बेरोजगारों में भारी आक्रोश देखने को मिल रहा है। अधीनस्थ सेवा चयन आयोग ने मार्च 2020 में इंटरमीडिएट स्तर के कुल 746 पदों के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू की थी।

जिसमें वन विभाग के कनिष्ठ सहायक के पद भी शामिल थे इस परीक्षा को शुरू करने के बाद पिछले अक्टूबर माह में आयोग लिखित परीक्षा भी आयोजित करवा चुका है। यह माना जा रहा है कि अगले एक-दो सप्ताह के भीतर आयोग इसके परिणाम जारी कर सकता है। लेकिन उससे पहले ही बन विभाग ने कनिष्क सहायक के एक सेट पदों को समाप्त करते हुए आयोग को इन पदों की भर्ती में शामिल नहीं करने को कहा है।

आयोग ने यह सूचना जैसे ही अभ्यर्थियों को दी तो बेरोजगारों का गुस्सा भी फूट पड़ा है। देवभूमि बेरोजगार मंच ने इसका विरोध किया है। उधर सचिव अधीनस्थ सेवा चयन आयोग संतोष बडोनी का कहना है कि पद बढ़ाना और घटाना पूरी तरह से प्रशासकीय विभाग का अधिकार होता है।

उत्तराखंड