देहरादून: महंगाई लोगों की कमर तोड़ रही है। आज से कुछ और चीजें भी महंगी हो गई हैं। उत्तराखंड में जहां बिजली के रेट बढ़े हैं। वहीं, पानी पीना भी अब पहले से महंगा हो गया है। लोगों को अब प्यास बुझाने के लिए भी पहले से ज्यादा पैसे चुकाने होंगे। एक अप्रैल यानी आज से पानी के बिल में नौ से 15 प्रतिशत तक की बढ़ोतरी हो रही है। आपका पानी का बिल हर माह 15 से 25 रुपये बढ़कर आएगा।

शहरी क्षेत्रों में पानी का बिल हाउस टैक्स के आधार पर तय किया जाता है। शहरी क्षेत्रों में पानी के बिल में हर वर्ष 11 प्रतिशत के करीब बढ़ोतरी होती है। वहीं, ग्रामीण क्षेत्रों में घर में लगे नलों की संख्या के आधार पर बिल और उसमें बढ़ोतरी का निर्धारण किया जाता है।

घर में दो नल होने पर बिल में नौ प्रतिशत और दो से अधिक नल होने पर 11 प्रतिशत की वृद्धि की जाती है। जल संस्थान की ओर से हर तीन माह में पानी के बिल जारी किए जाते हैं। इसमें हर माह 15 से 25 रुपये की वृद्धि को पैमाना मानें तो अब बिल में 45 से 75 रुपये अधिक भुगतान करना होगा। जल संस्थान की महाप्रबंधक नीलिमा गर्ग ने बताया कि पानी के बिल में बढ़ोतरी का नियम शासन से लागू किया गया है।

इसके अनुसार हर वर्ष नौ से 11 प्रतिशत की बढ़ोतरी स्वतरू लागू हो जाती है। इसमें शासन की ओर से ही संशोधन या बदलाव किया जा सकता है। पानी के बिल में विलंब शुल्क में दी जा रही छूट भी आज से नहीं मिलेगी। यह रियायत केवल मार्च में दी जाती है। अब पिछला बिल जमा करने पर उपभोक्ताओं से पूर्ण विलंब शुल्क वसूला जाएगा।

Leave a Reply