उत्तराखंड: चारधाम यात्रा मार्गों पर मिलेंगे ऑक्सीजन सिलेंडर

देहरादून: चारधाम यात्रा मार्गों पर हो रही तीर्थ यात्रियों की मौत पर स्वास्थ्य मंत्री धन सिंह रावत ने बयान दिया है। उन्होंने कहा कि अब तक जो भी मौतें हुई हैं, अधिक ऊंचाई के कारण सांस लेने में हो रही परेशानी के चलते हुई हैं। उन्होंने कहा कि सरकार ने चारों धामों के बेस कैंपों पर नई व्यवस्था शुरू की है।

बाहर से आने वाले सभी यात्रियों की स्वास्थ्य जांच की जाएगी। स्वास्थ्य पूरी तरह ठीक होने के बाद ही जाने दिया जाएगा। साथ ही धामों के मार्गों में एक से दो किलोमीटर के दायरे में ऑक्सीजन सिलेंडर भी उपलब्ध कराए जा रहे हैं। अगर किसीको ऑक्सीजन की जरूरत पड़ती है, तो उपलब्ध कराई जाएगी।

स्वास्थ्य मंत्री धन सिंह रावत ने कहा कि सरकार को सभी यात्रियों के स्वास्थ्य की चिंता है। चारधाम यात्रा मार्गों में सभी सुविधाएं उपलब्ध कराई जा रही है। अतिरिक्त डॉक्टर भी तैनात किए गए हैं। एडवांस लाइफ सपोर्ट एंबुलेंस भी उपलब्ध करा दी गई हैं। उन्होंने कहा कि अधिक स्वास्थ्य खराब होने की स्थिति में एयर रेस्क्यू की भी व्यवस्था की गई है।

वहीं, तीर्थ यात्रियों की मौत मामले में स्वास्थ्य महानिदेशक डॉ. शैलेजा भट्ट ने यात्रा पर आने वाले यात्रियों से अपील की है कि वो अपनी स्वास्थ्य जांच कराने के बाद भी धाम की यात्रा पर आएं। पहाड़ी क्षेत्रों में ऊंचाई और ठंड के कारण ब्लड प्रेशर बढ़ जाता है, जिसके चलते लोगों की जानें जा रही हैं। ऐसे में पैदल चढ़ाई करने में हाई ब्लड प्रेशर, मधुमेह, कैंसर और अस्थमा से ग्रसित मरीजों को तबीयत बिगड़ने का खतरा ज्यादा रहता है।

उत्तराखंड