उत्तराखंड : मसूरी में इन वाहनों की नो एंट्री, यहां तक ही मिलेगी जाने की परमिशन

देहरादून: मसूरी में पर्यटन सीजन में पर्यटकों की भारी भीड़ हो जाती है। इस भीड़ को नियंत्रित करने और कोरोना से बचाव के लिए पुलिस ने बीच का रास्ता निकाला है। जहां, लोगों के लिए मास्क जरूरी कर दिया है। वहीं, जाम के झाम से बचने के लिए खास प्लान भी दून पुलिस ने तैयार किया है। इस प्लान के तहत बड़े वाहनों से मसूरी आने वाले पर्यटक अब सीधे होटल नहीं जा सकेंगे। बसें और टेंपो ट्रेवलर किंग्रेग पार्किंग में खड़ा करना होगा। यहां से शटल सर्विस से होटल पहुंचाया जाएगा।

पर्यटकों को उनके होटल तक पहुंचने की सटल सेवा की व्यवस्था पुलिस, होटल एसोसिएशन और टैक्सी एसोसिएशन करेंगे। इससे जहां जाम नहीं लगेगा। वहीं, स्थानीय टैक्सी संचालकों को भी रोजगार मिलेगा। पर्यटकों को प्रति सवारी 50 रुपये देने होंगे। इसके अलावा जो बसें मसूरी होकर कैंपटी फॉल जाएंगी, उन्हें वाया विकासनगर लौटना होगा। बसों को वापसी में मसूरी नहीं आने दिया जाएगा। डीआईजी जन्मेजय खंडूरी ने बताया कि इसके लिए सभी संबंधित अधिकारियों को जानकारी दे दी जाएगी।

पर्यटन सीजन को देखते हुए डीआईजी/एसएसपी जन्मजेय खंडूड़ी ने नगरपालिका सभागार में होटल एसोसिएशन, टैक्सी एसोसिएशन के पदाधिकारियों और पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक की। इसमें यातायात व्यवस्था पर लोगों के सुझाव लेने के साथ ही सीजन में पुलिस की यातायात व्यवस्था पर चर्चा की गई। एसएसपी ने कहा कि माल रोड शाम पांच बजे से रात दस बजे तक जीरो जोन रहेगा। इस दौरान कोई भी वाहन नहीं चलेंगे। बेवजह रिक्शा भी नहीं चलेंगे। उल्लंघन करने वालों पर कार्रवाई की जाएगी।

उन्होंने कहा कि कैमल बैक रोड के स्थानीय लोगों की शिकायत पर वहां निगरानी के लिए स्पेशल पिकेट लगाई जाएगी। सादी वर्दी में पुलिस तैनात रहेंगे। कोई गड़बड़ी करते या नशे की हालत में मिला तो कड़ी कार्रवाई की जाएगी। डीआईजी ने कहा कि वीकेंड में होटल की बुकिंग होने पर ही दोपहिया वाहन चालकों को मसूरी आने दिया जाएगा। जिनकी बुकिंग नहीं होगी उन्हें कुठाल गेट पर रोका जाएगा। यहां गहन चेकिंग की जाएगी। सीजन में लालटिब्बा और चार दुकान क्षेत्र में सिर्फ मसूरी में पंजीकृत वाहन जा सकेंगे।

पर्यटकों के वाहनों को इन क्षेत्रों में नहीं जाने दिया जाएगा। हाईवे पेट्रोल वाहन भी सड़क पर अव्यवस्थित वाहनों पर कार्रवाई करेगा। दोपहिया वाहन सवार बिना हेलमेट के पकड़े गए तो कार्रवाई की जाएगी। बिना मास्क वालों के चालान किए जाएंगे। पुलिस फोर्स की कमी पर उन्होंने कहा कि मसूरी और ऋषिकेश में वीकेंड पर लगातार अतिरिक्त फोर्स तैनात की जा रही है। फिर भी पर्यटन सीजन को देखते हुए विभिन्न थानों से फोर्स को मई से जून के लिए मसूरी भेजा जाएगा।

उत्तराखंड