उत्तराखंड: यमुनाघाटी में बारिश का कहर, भारी नुकसान, घरों को खतरा, यहां हुआ जलभराव

उत्तरकाशी: बारिश का कहर जारी है। उत्तरकाशी जिले में देर रात को भारी बारिश के कारण भारी नुकसान हुआ है। लोगों को बारिश का कारण दिक्कतों का सामना करना पड़ा। खासकर यमुनाघाटी में बारिश से लोगों को काफी नुकसान हुआ है। जहां मोरी ब्लॉक के प्रमुख बाजार मोरी में भारी बारिश के कारण नाला उफान पर आ गया, जिसके चलते मलबा और बारिश का पानी लोगों के घरों में घुस गया। वहीं, यमुनोत्री मार्ग से सटे खनेड़ा और अन्य गावों में भूस्खलन से लोगों के घरों को खतरा पैदा हो गया है।

मोरी मुख्य बाजार में बारिश के कारण पूरा बाजार ही मलबे के ढेर में तब्दी हो गया। मोरी मुख्य बाजार में बरसाती पानी का नाला उफान पर आ गया। सड़क किनारे खड़े वाहन मलबे में फंस गए। उफान को देख लोगों में अफर-तफरी मच गई। प्रशासन की टीम नुकसान का आंकलन कर रही है।

मलबा आने के कारण यमुनोत्री हाइवे खनेड़ा और डबरकोट के पास बंद हो गया। मार्ग खोलने के प्रयास जारी हैं। खनेडा के पास लगातार मलवा आने से सड़क खोलने में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

यमुनाघाटी में नगर पालिका बडकोट के वार्ड नम्बर सात पुरानी तहसील क्षेत्र में आवासीय भवनों में जलभराव हो गया। तिलाड़ी मार्ग भट्टी नाला आने से बंद हो गया। नौगांव-देहरादून मोटर हाइवे में नौगांव चौकी के पास नाले में मलवा आने से बंद हो गया था, जिसे बाद में खोल दिया गया। उधर, पुरोला में कमल नदी भी उफान पर है।

उत्तराखंड