उत्तराखंड: खेत में काम कर रहे किसान पर गुलदार का हमला

देहरादून: गुलदार के हमले मैदान से पहाड़ तक लगातार हो रहे हैं। राजधानी देहरादून में भी अब गुलदार ने खेम में काम कर रहे किसान पर हमला कर दिया। हमले में किसान गंभीर घायल हो गया है। वन विभाग की टीम को मौके पर पहुंची, लेकिन गुलदार ने टीम को दौड़ दिया। खेतों में सिंचाई कर रहे किसान पर घात लगाकर बैठे गुलदार ने हमला कर दिया।

हमले में वह घायल हो गए। वहीं उसे पकड़ने के लिए जैसे ही वन विभाग के कर्मी पिंजरा लगाने लगे गुलदार ने उन पर भी हमला बोल दिया। डोईवाला में थानो रेंज के अंतर्गत गुलदार के हमले से एक स्थानीय किसान समेत दो वन कर्मी घायल हो गए। घायल व्यक्ति भाजपा नेता दीवान सिंह रावत के चचेरे भाई हैं। दीवान सिंह ने बताया कि उनके भाई चरण सिंह रावत अपने खेतों में सिंचाई के लिए गुरुवार को सुबह 6 बजे गए हुए थे।

तभी वहां पहले से बैठे हुए गुलदार ने चरण सिंह पर हमला बोल दिया, हमले में उनका हाथ बुरी तरह घायल हो गया। चरण सिंह की पुकार सुनकर गांव के लोग मौके पर पहुंचे, जिसके बाद गुलदार वहां से भाग गया। चरण सिंह को उपचार के लिए जौलीग्रांट स्थित हिमालयन हास्पिटल ले जाया गया है।

ग्रामीणों की ओर से वन विभाग को गुलदार के हमले की सूचना दी गई। सूचना पर थानो रेंजर नत्थीलाल डोभाल वन कर्मियों के साथ मौके पर पहुंचे और गुलदार को पकड़ने के लिए पिंजरा लगाया गया। पिंजरा लगाते समय गुलदार ने पुनः हमला कर दिया। जिससे वन कर्मी दीपक राणा और आयुष डबराल घायल हो गए। इन्हें थानो स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया।

थानो रेंज के रेंजर नत्थी लाल डोभाल ने बताया कि गुलदार की लोकेशन ट्रेस कर ली गई है। उसे पकड़ने के लिए डाक्टरों की टीम को भी बुलाया गया है। गुलदार लंगड़ाकर चल रहा है तो हो सकता है कि उसके पैर में भी कुछ तकलीफ हो। गुलदार को पकड़ कर ही उसकी जांच की जा सकेगी।

उत्तराखंड